wafa


Khamosh fiza thi kahin saya bhi nahi tha

Khamosh fiza thi kahin saya bhi nahi tha
Is shaher me hamsa koi tanha bhi nahi tha
Kis jurm me cheeni gayi mujhse meri hansi
Maine to kisi ka dil dukhaya bhi nahi tha

खामोश फ़िज़ा थी कहीं साया भी नही था
इस शहर मे हंसा कोई तन्हा भी नही था
किस जुर्म मे छीनी गयी मुझसे मेरी हँसी
मैने तो किसी का दिल दुखाया भी नही था

Mere dil ne tujhe sada di

Mere dil ne tujhe sada di
Chupke se is dil ne dua di
Tajmahel dekha to ek kami si lagi
Maine teri tasweer laga di …

मेरे दिल ने तुझे सदा दी
चुपके से इस दिल ने दुआ दी
ताजमहेल देखा तो एक कमी सी लगी
मैने तेरी तस्वीर लगा दी …

Meri ye adat tujhe zaroor yaad rahegi

Meri ye adat tujhe zaroor yaad rahegi
Na koi matlab … Na koi gila
Jab bhi mila muskura ke mila …

मेरी ये आदत तुझे ज़रूर याद रहेगी
ना कोई मतलब … ना कोई गिला
जब भी मिला मुस्कुरा के मिला …

Main sb kuch bhool sakta hu

Main sb kuch bhool sakta hu
Siwaye un lamho ke
Jb mujhe zaroorat thi unki
Aur wo maujood nahi the …

मैं सब कुछ भूल सकता हू
सिवाए उन लम्हो के
जब मुझे ज़रूरत थी उनकी
और वो मौजूद नही थे …

Par gaye saare rang feeke teri bewafaiyo se

Pad gaye saare rang feeke teri bewafaiyo se
Main jahan jahan se guzra hu hui meri jag hasai
Meri neend tune luti mera chain tune luta
Tujhe raas kyu na aayi barso ki aashnayi
Mujhe kya pata tha hogi tere dil me bewafai
Jo saza miane de di teri aarzo me khud ko
Mere khawab saare tute mujhe neend tk na aayi …

पड़ गए सारे रंग फीके तेरी बेवफ़ाइयों से
मैं जहां जहां से गुज़रा हु मेरी जग हसाई
मेरी नींद तूने लूटी मेरा चैन तूने लूटा
तुझे रास क्यों न आई बरसो की आशनाई
तुझे आसमान बनाया मैंने अपनी ज़िन्दगी का
मुझे क्या पता था होगी तेरे दिल में बेवफाई
जो सजा मैंने देदी तेरी आरज़ू में खुद को
मेरे ख्वाब सारे टूटे मुझे नींद तक ना आई …

Tumko fursat ho meri jaan to

Tumko fursat ho meri jaan to

Tumko fursat ho meri jaan to idhar dekh lo
char aankhe ma karo ek nazar dekh to lo
baat karne ko kaun tumhe kehta hai
Na karo hamse koi baat magar ek nazar dekh to lo …

तुमको फुर्सत हो मेरी जान तो इधर देख लो
चार आँखे न करो एक नज़र देख तो लो
बात करने को कौन तुम्हे कहता है
न करो हमसे कोई बात मगर देख तो लो …

Ishq Tujhse karti hu main zindagi se zyada

Ishq Tujhse karti hu main zindagi se zyada
Main darti nahi maut se teri judai se zyada
Chahe to aazma le mujhe kisi aur se zyada
Meri zindagi me kuch nahi teri muhabbat se zyada …

इश्क़ तुझसे करती हू मैं ज़िन्दगी से ज़्यादा
मैं डरती नहीं मौत से  तेरी जुदाई से ज़्यादा
चाहे तो आज़मा ले मुझे किसी और से ज़्यादा
मेरी ज़िन्दगी में कुछ नहीं तेरी मोहब्बत से ज़्यादा …

Udas nazre tadap tadap kar

Udas nazre tarap tarap kar
Tumhare jalwo ko dhundhti ha
Wo khawab ki tarah kho gaye
Un haseen lamho ko dhundhti ha …

उदास नज़रे तड़प तड़प कर
तुम्हारे जलवों को ढूँढती है
वो खवाब की तरह खो गये
उन हसीन लम्हो को ढूँढती है! …

Jb rooh kisi bojh se thak jati hai

Jb rooh kisi bojh se thak jati hai
Ahsas ki lau aur badh jati hai
Main badhta hu zindagi ki janib lekin
zanjeer si pairo me chanak jati hai …

जब रूह किसी बोझ से थक जाती है
अहसास की लौ और भी बढ़ जाती है
मैं बढ़ता हु ज़िन्दगी की जानिब लेकिन
ज़ंजीर सी पैरो में छनक जाती है …

Lipta hai mere dil se kisi raaz ki tarah

Lipta hai mere dil se kisi raaz ki tarah
Wo shaks jisko mera hona bhi nahi hai
Ye ishq aur mohabbat ki rawayat bhi ajeeb hai
Paana bhi nahi hai aur khona bhi nahi hai …

लिपटा है मेरे दिल से किसी राज़ की तरह
वो शख्स जिसको मेरा होना भी नहीं है
ये इश्क़ और मोहब्बत की रवायtत भी अजीब है
पाना भी नहीं है और खोना भी नहीं है! …