hindi


Love shayari, Hum apni mohabbat ki

Love shayari, Hum apni mohabbat ki

Hum apni mohabbat ki numaish nahi karte
Jise chahte hain uski aazmaish nahi karte
Jise chahte hain dil se chahte hain
Badle mein chahne ki farmaish nahi karte….

हम अपनी मोहब्बत की नुमाइश नही करते
जिसे चाहते हैं उसकी आज़माइश नही करते
जिसे चाहते हैं दिल से चाहते हैं
बदले में चाहने की फरमाइश नही करते…..

Dil ke dareeche se

Dil ke dareeche se
Dekhne waale ko bhi kya na dikha hoga
Uss mohabbat ke aasmaan mein
Ashkon ke baadal ka pata hoga

दिल के दरीचे से
देखने वाले को भी क्या ना दिखा होगा
उस मोहब्बत के आसमान में
अश्कों के बादल का पता होगा

Tumne luta hai sadiyon hamara sukun

Tumne luta hai, Sadiyon hamara sukun,
Ab na ham par chalega tumhara fusu,
Charagar dardmando ke bante ho kyu?
Tum nahi charagar, Koi mane magar,
Main nahi manta, main nahi janta …

तुमने लूटा है, सदियों हमारा सुकून,
अब ना हम पर चलेगा तुम्हारा फूसू,
चरागर दर्दमन्दो के बनते हो क्यू?
तुम नही चरागर, कोई माने मगर,
मैं नही मानता, मैं नही जनता …

Jaane kyu jo log rulate hain

Jaane kyu jo log rulate hain
Unhi se gale lag kar
Rone ko dil chahta hai

जाने क्यू जो लोग रुलाते हैं
उन्ही से गले लग कर
रोने को दिल चाहता चाहता है

Pyar se chahe sare armaan mang lo

Pyar se chahe sare armaan mang lo
Ruth kar chahe meri muskan mang lo
tamanna ye ha ki na dena kabhi dhokha
phir chahe hans kar meri jaan mang log

प्यार से चाहे सारे अरमान माँग लो
रूठ कर चाहे मेरी मुस्कान माँग लो
तमन्ना ये है की ना देना कभी धोखा
फिर चाहे हंस कर मेरी जान माँग लो

Tu hi batana kaise chod du

Tu hi batana kaise chod du
Tujhse mohabbat karna
Tu naseeb main na sahi
Dil main to hain ..

तू ही बताना कैसे छोड़ दू
तुझसे मोहब्बत करना
तू नसीब मे ना सही
दिल मे तो हैं ..

Sirf gulab dene se agar

Sirf gulab dene se agar
Mohabbat ho jati
To malli saare “shahar” ka
Mahboob ban jata ..
सिर्फ गुलाब देने से अगर
मोहब्बत हो जाती
तो माली सारे शहर का
महबूब बन जाता ..

Yaad teri jab aati hai

Yaad teri jab aati hai ..!
Kya batayein kya haal hota hai
Ek bechaini si dil pe chaati hai
Ek tujhe hi ye ehsas nahi hota Jana
Ki ye dil lut jane ki nishani hai ..

याद तेरी जब आती है
क्या बताएं क्या हाल होता है
एक बेचैनी सी दिल पे छाती है
एक तुझे ही ये एहसास नहीं होता जाना
की ये दिल लूट जाने की निशानी है

Aap ke tabassum ki kya taaref karun

Aap ke tabassum ki kya taaref karun
Jisne bhi dekha jaan se gaya
Kamaal ka hunar paya hai
Dushman bhi dil haar baiththe hai ..

आप के तबस्सुम की क्या तारिफ़ करूँ
जिसने भी देखा जान से गया
कमाल का हुनर पाया है
दुश्मन भी दिल हार बैठते है ..

Aapki aankhon ka jadu aisa chaya

Aapki aankhon ka jadu aisa chaya
Apna hosh maine gawaya
Betab dil ki tamanna hai
Koi to ho ek hamsaya

आपकी आँखों का जादू ऐसा छाया
अपना होश मैंने गवाया
बेताब दिल की तमन्ना है
कोई तो हो एक हमसाया