Tujhme baat hi kuch aisi hai

Tujhme baat hi kuch aisi hai
“Ae Jaa Nasheen”
Dil na diya tumhe to
Jaan hi chali jayegi …

तुझमे बात ही कुछ ऐसी है
“ऐ जा नशी”
दिल ना दिया तुम्हे तो
जान ही चली जाएगी …

Hum to mazak me bhi kisi

Hum to mazak me bhi kisi
Ko dard dene se darte hai
Na jaane log kaise
Soch samajh kar
Dilon se khel jate hai

हम तो मज़ाक मे भी किसी
को दर्द देने से डरते है
ना जाने लोग कैसे
सोच समझ कर
दिलों से खेल जाते है …

Paani me pathar mat pheko

Paani me pathar mat pheko
Us paani ko bhi koi peeta hoga
yu mat raho zindagi me udas
Tujhe dekh ke bhi koi jeeta hoga …

पानी मे पत्थर मत फेको
उस पानी को भी कोई पीता होगा
यू मत रहो ज़िंदगी मे उदास
तुम्हे देख के भी कोई जीता होगा …

Than liya tha ki – Hindi Love shayari

Than liya tha ki,
Ab aur shayari nahi likhenge
Par unka pallu gira dekha
Aur alfaz bagawat kar baithe …

ठान लिया था कि,
अब और शायरी नही लिखेंगे
पर उनका पल्लू गिरा देखा
और अल्फ़ाज़ बग़ावत कर बैठे …

Tum chaho to mera sub kuch le lo

Tum chaho to mera sub kuch le lo
Bus khud ko mere naseeb me likh do …

तुम चाहो तो मेरा सूब कुछ ले लो
बस खुद को मेरे नसीब मे लिख दो …

 

Guzar to jayegi zindagi

Guzar to jayegi zindagi
Uske bagair bhi
Lekin tarasta rahega ye dil
Pyar karne walo ko dekh kar …

गुज़र तो जाएगी ज़िंदगी
उसके बगैर भी
लेकिन तरसता रहेगा ये दिल
प्यार करने वालो को देख कर …

Tum nazar nahi aate

Tum nazar nahi aate,
To ajkl shaam nahi dhalti
Bus udas sa hai sab kuch
Dil se dil ki baat nahi nikalti …

तुम नज़र नही आते,
तो अजक्ल शाम नही ढलती
बस उदास सा है सब कुछ
दिल से दिल की बात नही निकलती …

 

Kisi ko chah kar chor dena

Kisi ko chah kar chor dena
bahut aasan hain
kisi ko chhor kar bhi chaho
To pata lagega
Mohabbat kisey kehte hai

किसी को चाह कर छोड़ देना
बहुत आसान हैं
किसी को छोड़ कर भी चाहो
तो पता लगेगा
मोहब्बत किसे कहते है

Intizar to hum tera sari umar kar lainge

Intizar to hum tera sari umar kar lainge
Bus khuda kare tu bewafa na nikle

इंतिज़ार तो हम तेरा सारी उमर कर लेंगे
बस खुदा करे तू बेवफा ना निकले

Meri pagal si dosti tumhe

Meri pagal si dosti tumhe
Us waqt bahut yaad aayegi
Jb tmhe hasane wale kam
Aur rulane wale zyada honge

मेरी पागल सी दोस्ती तुम्हे
उस वक़्त बहुत याद आएगी
जब तुम्हे हसने वाले कम
और रुलाने वाले ज़्यादा होंगे